कृषि उपज रहन ऋण योजना राजस्थान 2020 | Krishi Upaj Rahan Rin Yojana ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया

By | June 27, 2020

Krishi Upaj Rahan Rin Yojana 2020: किसानों के हितों को ध्यान में रखते हुए, राजस्थान सरकार द्वारा उन्हें वित्तीय सहायता प्रदान करने के लिए राजस्थान कृषि उपज रहन ऋण योजना शुरू की गई है। योजना के तहत, राज्य सरकार द्वारा किसानों को ऋण उपलब्ध कराया जाएगा, ताकि वह किसान अपनी सभी जरूरत का सामान ले सकें और आर्थिक रूप से मजबूत बन सकें। योजना के संबंध में सारी जानकारी जानने के लिए आपको इस लेख में मिल जाएगी इसलिए आप इस लेख को अंत तक पढ़ना होगा। आइये जानते हैं राजस्थान कृषि उपज रहन ऋण योजना 2020 के बारे में।

Krishi Upaj Rahan Rin Yojana

Krishi Upaj Rahan Rin Yojana

कृषि उपज रहन ऋण योजना राजस्थान 2020

हम सभी जानते है की इस समय हमारा देश कोरोना महामारी के इस बड़े संकट से लड़ रहा है। हर वर्ग के लिए राजस्थान सरकार इस समय कई तरह की योजनाए लेकर आई है। बता दें सरकार किसानो के लिए भी एक राहत भरी खबर किसानो के लिए लेकर आई है। इस योजना के तहत लाभ लेने के लिए आपको ऑनलाइन आवेदन करना होगा।

सभी लाभार्थी किसानो को राज्य सरकार 1 जून 2020 से 3 फीसदी ब्याजदार पर लोन लोन उपलब्ध कराएगी। यह योजना को राज्य के सभी जिले मे लागू होगी। लोन का लाभ लेने के लिए आपको अपनी फसल को गिरवी रखने के बाद ही लोन दिया जाएगा। आपको लोन का 3% वापिस करना अहै और लोन का 7% सरकार द्वारा किया जाना है।

Krishi Upaj Rahan Rin Yojana की मुख्य विशेषताएं

  • किसानो को उनकी फसल गिरवी रखने पर उन्हे कम ब्याज दर पर राज्य सरकार की तरफ से ऋण उपलब्ध करवाया जाना है।
  • इस योजना के लोन का 3 फीसदी ब्याज किसान द्वारा वहन किया जाना है और बाकी का 7 फीसदी राज्य सरकार द्वारा दिया जाना है।
  • यह 7 फीसदी ब्याज दर राज्य के कृषक कल्याण कोष के द्वारा दिया जाना है।
  • इस योजना के तहत लोन का वितरण राज्य की 4 हजार ग्राम सेवा सहकारी समितियों के माध्यम से किया जाना है।
  • लघु एवं सीमांत वर्ग से लेकर बड़े सभी तरह से किसान इस योजना के तहत लाभ ले सकते है।
  • छोटे किसान को 1.50 लाख रुपए तक का लोन दिया जाना है और बड़े किसानो को 3 लाख रुपए तक का लोन देना है।
  • अपनी फसल का कुल 70% लोन लेने के बाद किसान अपनी फसल को अछे भाव मे बेच सकता है।

Krishi Upaj Rahan Rin Yojana योजना के पात्रता मानदंड:-

राज्य के किसानों के लिए- इस योजना के लाभ पाने के लिए किसानों को राजस्थान राज्य के निवासियों का होना होगा। क्रेडिट के रूप में केवल 70% लागत – यह योजना किसानों को कुल पैसे का केवल 70% प्रदान करेगा, गणना बाजार मूल्य के आधार पर की जाएगी जिस पर किसान ने फ़सल बेची होगी।

राज्य सरकार द्वारा आधार कार्ड और मतदाता कार्ड जारी किए जाने की आवश्यकता है। एनपीए संबंधी मानदंड – इस योजना में इस बात पर प्रकाश डाला गया है कि यदि गैर-लाभकारी एनपीए के लाभ 10% से कम है, तो वे क्रेडिट प्राप्त करने मे सक्षम होंगे।

सक्रिय बैंक खाता – जैसा कि खाते के माध्यम से किसानों को क्रेडिट दिया जाएगा, यह अनिवार्य है कि हर किसान का सक्रिय बैंक खाता हो । इस खाते का विवरण पंजीकरण फॉर्म के साथ प्रदान किया जाना चाहिए।

कृषि उपज रहन ऋण योजना राजस्थान दस्तावेज़

  • किसान पहचान पत्र ।
  • आधार कार्ड ।
  • मोबाइल नंबर किसान का।
  • फसल संबन्धित दस्तावेज़।
  • भूमि संबन्धित प्रमाण पत्र इत्यादि।
  • बैंक खाता जिस बैंक से लोन लेना है।

Krishi Upaj Rahan Rin Yojana ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया

इस योजना को राज्य सरकार 1 जून 2020 से शुरू करने वाली है। अभी तक यह जानकारी सामने नहीं आई है की आपने ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन कैसे करना है। जैसे ही ऑनलाइन आवेदन की जानकारी सामने आती है वो हम आपको अपने इस आर्टिक्ल के जरिये ही बता देंगे।

रजिस्ट्रेशन से पहले राज्य सरकार इसके लिए एक ऑनलाइन पोर्टल तैयार करेगाई। तभी ऑनलाइन आवेदन की प्रक्रिया की शुरुआत की जानी है। यह 1 जून से शुरू कर दी जाएगी।

तो आपको आवश्य ही यह जानकारी फसल उपज रहन ऋण योजना की लाभदायक लगी हो। आपको और भी कोई जानकारी इस योजना से जुड़ी चाहिए तो आप कमेंट कर पूछ सकते है। हम आपको आपके सवाल का जबाब जरूर देंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *